ads banner
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
समाचारYuva Kabaddi Series के सीईओ ने इस टूर्नामेंट पर कही ये बात

Yuva Kabaddi Series के सीईओ ने इस टूर्नामेंट पर कही ये बात

Yuva Kabaddi Series के सीईओ ने इस टूर्नामेंट पर कही ये बात

Yuva Kabaddi Series: युवा कबड्डी सीरीज 2023 भारत में शौकीनों को अपने कौशल दिखाने और बड़े स्तर पर चमकने में मदद कर रही है। इस टूर्नामेंट ने अपनी स्थापना के बाद से कबड्डी प्रतिभाओं के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। 12 खिलाड़ियों में से भारत के हालिया जूनियर कबड्डी विश्व कप की सफलताओं में से आठ युवा कबड्डी श्रृंखला कार्यक्रम के माध्यम से आगे बढ़े हैं।

यह टूर्नामेंट एक बार फिर इन कबड्डी खिलाड़ियों के लिए एक मंच और अत्यधिक प्रतिस्पर्धी माहौल प्रदान करने के लिए तैयार है। युवा कबड्डी सीरीज 2023 का छठा संस्करण रविवार से शुरू होने वाला है, जबकि मानसून संस्करण 2023 24 सितंबर को शुरू होगा। यह मदुरै के फातिमा कॉलेज इंडोर स्टेडियम में 22 अक्टूबर तक चलेगा।

मानसून संस्करण देश भर के 16 विभिन्न राज्यों से आए 300 से अधिक खिलाड़ियों के साथ एक रोमांचक प्रतियोगिता का वादा करता है। वे कुल 132 उच्च तीव्रता वाले मैचों में जीत के लिए संघर्ष करेंगे।

ये भी पढ़ें- Real Kabaddi League 2023 में आज होंगे ये चार बड़े मैच

Yuva Kabaddi Series: श्री विकास गौतम, जो युवा कबड्डी सीरीज के सीईओ हैं, उन्होंने बताया कि कैसे टूर्नामेंट ने भारतीय कबड्डी प्रतिभा को निखारने में मदद की है। छठे संस्करण से पहले उनका बयान इस प्रकार है:

“कार्स24 युवा कबड्डी सीरीज ने भारतीय कबड्डी के भविष्य को आकार देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है, जिसमें 30 से अधिक खिलाड़ियों ने न्यू यंग प्लेयर (एनवाईपी) पहल के माध्यम से प्रो कबड्डी लीग सीजन 9 में स्थान अर्जित किया है। इस श्रृंखला के माध्यम से, हम खेल के लिए युवा प्रतिभाओं को विकसित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।”

गौतम ने यह भी घोषणा की कि आगामी सीजन के लिए टीमों को बढ़ाकर 16 कर दिया गया है। उनका लक्ष्य इस खेल को देश के हर कोने तक ले जाना है। सीईओ के बयान के अनुसार, आंध्र प्रदेश, ओडिशा और कई अन्य राज्यों सहित विभिन्न राज्यों के खिलाड़ियों ने इस प्रयास में अपनी रुचि दिखाई है।

“हमारा उद्देश्य इस खेल को देश के हर कोने में ले जाना है और हमने टीमों को 10 से बढ़ाकर 16 कर दिया है, जिनमें अब दिल्ली, पंजाब, ओडिशा, गोवा, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, त्रिपुरा और राजस्थान जैसे राज्यों से खिलाड़ी दूसरों के बीच में आ रहे हैं।”

प्रो कबड्डी न्यूज़ इन हिंदी

कबड्डी हिंदी लेख