ads banner
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
समाचारचिड़ावा में धार्मिक कार्यक्रम के बीच हुई महिला कबड्डी प्रतियोगिता, भावना टीम...

चिड़ावा में धार्मिक कार्यक्रम के बीच हुई महिला कबड्डी प्रतियोगिता, भावना टीम जीती

चिड़ावा में धार्मिक कार्यक्रम के बीच हुई महिला कबड्डी प्रतियोगिता, भावना टीम जीती

राजस्थान में झुंझुनू जिले की नगरपालिका चिड़ावा में महिलाओं से जुड़ी खेलकूद प्रतियोगिता और धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया था. नगरपालिका की ओर से बायपास रोड़ पर बावलिया बाबा मंदिर के पीछे इस खेल महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है. इस प्रतियोगिता में सभी टीमों और खिलाड़ियों ने जमकर प्रदर्शन किया था. इस मौके पर सुभ बावलिया बाबा की समाधि पर रंगोली प्रतियोगिता भी रखी गई थी. इस दौरान सभी ने तरह-तरह की रंगोली सजाई.

चिड़ावा में हुई महिलाओं की कबड्डी प्रतियोगिता

इस मौके पर नगर पालिकाध्यक्षा सुमित्रा सैनी, जेईएन नवीन सैनी और संयोजक आंचल भगेरिया ने जायजा लिया था. वहीं इस दौरान मेला स्थल पर महिलाओं की कबड्डी प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया था. इस दौरान महिलाओं एन बढ़-चढ़कर इसमें भाग लिया था. दो टीमें इसमें बनाई गई थी. जिसमें भावना टीम और प्रियंका ग्रुप की टीम शामिल रही थी. भावना टीम ने प्रियंका ग्रुप को हराया था. इस दौरान कोच संदीप राव और भवानीसिंह भी मौजूद रहे थे. इन दोनों के संरक्षण में ही यह महिला कबड्डी मैच का आयोजन किया गया था.

महिलाओं के जोश को देखते हुए ही सभी ने उनका खूब उत्साह वर्धन किया था. बताया गया है कि इन कार्यक्रम का उद्देश्य महिलाओं को खेल के प्रति जागरूक करना है और उनकी प्रतिभा को भी निखारना है. इतना ही नहीं प्रतियोगिता के दौरान महिलाओं ने खेल में ही भाग नहीं लिया साथ ही धार्मिक कार्यक्रम भी आयोजित किए गए थे. श्याम सखी दरबार महिला समूह ने सुंदर भजनों की प्रस्तुती भही दे थी.

इसके साथ ही महिला समूह द्वारा ही सुन्दर काण्ड का पाठ भी किया गया था. जिसमें भी महिलाओं ने शानदार प्रस्तुती देकर सबका मन मोह लिया था. सुन्दरकाण्ड वाचन में सुधा, अस्मिता गुप्ता, रेखा जांगिड़, पूनम शर्मा, सुनीता जांगिड़, मीना जांगिड़, कुसुम, रेखा पांडे शामिल रही थी. कार्यक्रम के दौरान नगरपालिकाध्यक्षा ने विजेताओं का सम्मान किया और उन्हें स्मृति चिन्ह भी भेंट किया था.

Yash Sharma
Yash Sharmahttps://prokabaddilivescore.com/
मुझे 12 साल की उम्र से ही इस खेल में दिलचस्पी है। मैं प्रो कबड्डी का फैन हूं।

प्रो कबड्डी न्यूज़ इन हिंदी

कबड्डी हिंदी लेख