ads banner
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
एथलीटManjeet Chhillar Biography in Hindi | मंजीत छिल्लर की जीवनी

Manjeet Chhillar Biography in Hindi | मंजीत छिल्लर की जीवनी

Manjeet Chhillar Biography in Hindi | मंजीत छिल्लर की जीवनी

Manjeet Chhillar Biography in Hindi (मंजीत छिल्लर की जीवनी): प्यार से वन मैन आर्मी कहे जाने वाले, मंजीत छिल्लर एक पूर्व पेशेवर कबड्डी खिलाड़ी हैं, जिन्होंने समय-समय पर अपनी टीम को गौरव दिलाया है।

चाहे वह भारतीय राष्ट्रीय टीम हो या प्रो कबड्डी लीग में उनकी टीम, मंजीत टीम में सबसे मूल्यवान खिलाड़ियों में से एक बनकर उभरे हैं।

वह 2016 के कबड्डी विश्व कप में स्वर्ण जीतने वाली टीम और एशियाई खेलों में दो बार स्वर्ण जीतने वाली टीम का हिस्सा रहे हैं। बेशक, यह अद्भुत यात्रा बिना किसी बाधा के नहीं थी। तो, आज हम मंजीत छिल्लर की जीवन कहानी के कुछ ज्ञात और अज्ञात पहलुओं की खोज करते हैं।

Manjeet Chhillar Personal Details

Manjeet Chhillar Biography in Hindi
Image Source: sportzcraazy
  • नाम: मंजीत छिल्लर
  • निकनेम: वन मैन आर्मी, एंग्री यंग मैन, माइटी मंजीत, पावरहाउस
  • नेशनलिटी: इंडियन
  • जन्म तिथि: 18 अगस्त 1986
  • जन्म स्थान: निज़ामपुर, दिल्ली, भारत
  • व्यवसाय: रेलवे कर्मचारी
  • हाइट: 1.73 मीटर (5 फीट 8 इंच)
  • वजन: 82 किलोग्राम (181 पौंड)

स्पोर्ट्स प्रोफाइल

  • देश: भारत
  • खेल: कबड्डी
  • पोजीशन: हरफनमौला
  • लीग: प्रो कबड्डी लीग क्लब बेंगलुरु बुल्स – 2014-2015, पुनेरी पलटन – 2016-2017, जयपुर पिंक पैंथर्स – 2017, तमिल थलाइवाज – 2018-2020, दबंग दिल्ली- 2021
  • टीम: भारतीय राष्ट्रीय कबड्डी टीम

Manjeet Chhillar: A Brief Biography in Hindi

मंजीत छिल्लर एक पेशेवर भारतीय कबड्डी खिलाड़ी हैं, जिनका जन्म 18 अगस्त 1986 को निज़ामपुर, दिल्ली, भारत में हुआ था। मनिंदर तमिलनाडु स्थित टीम तमिल थलाइवाज के लिए रेडर के रूप में खेलते थे, जो लोकप्रिय प्रो कबड्डी लीग में भाग लेती है।

मंजीत एक ऑलराउंडर हैं जिन्होंने सभी को आश्वस्त किया है कि उनके खेल में सब कुछ है। वह शीर्ष श्रेणी के डिफेंडर रहे हैं और फिर भी रेडिंग विभाग में उतने ही प्रभावी रहे हैं। भले ही वह लीग के अन्य रेडरों जितना लंबा नहीं है, लेकिन उसका स्मार्ट गेम और मजबूत शरीर अन्य खिलाड़ियों के लिए उससे निपटना कठिन बना देता है।

मंजीत छिल्लर का प्रारंभिक जीवन | Manjeet Chhillar Early Life

Manjeet Chhillar Biography in Hindi
Image Source: sportzcraazy.com

Manjeet Chhillar Biography in Hindi: हरियाणा में प्रतिभाशाली पहलवान तैयार करने की परंपरा रही है। मंजीत राज्य से उभरने वाले दूसरे पहलवान थे।

हालांकि, कभी-कभी बुरी चीज़ें आपको गलत रास्ते से हटाकर सही रास्ते पर ले जाती हैं। मंजीत की नाक पर बहुत गंभीर चोट लगी और वह अपने गांव वापस आ गया। उन्होंने स्थानीय बच्चों के साथ कबड्डी खेलना शुरू किया और जल्द ही उन्हें अपना हुनर ​​मिल गया।

हालांकि एक कबड्डी स्टार का जन्म आकस्मिक रूप से हुआ था, लेकिन वह अपनी कड़ी मेहनत, प्रतिभा और दृढ़ संकल्प से चमक गया।

भारतीय राष्ट्रीय कबड्डी टीम का सफर

मंजीत ने 2010 एशियाई खेलों में अपने पेशेवर करियर की शुरुआत की। वह स्वर्ण पदक जीतने वाली टीम का हिस्सा थे। यह उपलब्धि 2014 में खेलों के अगले संस्करण में दोहराई गई।

दोनों संस्करणों में पुरुषों की कबड्डी टीम ने वर्ग और वर्चस्व दिखाया। मंजीत ने दोनों टूर्नामेंट में अहम भूमिका निभाई।

Manjeet Chhillar Biography in Hindi
Image Source: sportzcraazy.com

उन्होंने 2010, 2011 और 2012 में राष्ट्रीय चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीते। मंजीत 2016 कबड्डी विश्व कप विजेता टीम का भी हिस्सा थे। वह टीम के उप कप्तान थे। कबड्डी चैंपियन 2018 दुबई कबड्डी मास्टर्स में विजेता टीम का हिस्सा था।

छिल्लर 2018 एशियाई खेलों की टीम का हिस्सा नहीं थे। दिल दहला देने वाले मैच में टीम ईरान से हार गई। हालांकि छिल्लर को टीम की क्षमताओं पर भरोसा था, लेकिन उन्होंने उन्हें ईरान द्वारा कड़ी प्रतिस्पर्धा के बारे में चेतावनी दी थी।

मंजीत छिल्लर का PKL करियर | Manjeet Chhillar PKL Career

Manjeet Chhillar Biography in Hindi: मंजीत ने अपनी प्रो कब्बडी लीग पारी की शुरुआत बेंगलुरु बुल्स के साथ की। वह उस लीग का हिस्सा बनकर खुश थे जो कबड्डी खिलाड़ियों को अपना कौशल दिखाने और पहचान हासिल करने का मंच देती है। उन्होंने प्रो कबड्डी लीग में कई टीमों के लिए खेला।

सीज़न 2 में, वह अपनी टीम बेंगलुरु बुल्स के लिए 51 अंक जीतकर टूर्नामेंट के स्टार स्पोर्ट्स डिफेंडर बने। उनके नाम पीकेएल में सबसे ज्यादा स्कोर करने वाले डिफेंडर होने का रिकॉर्ड भी है।

Manjeet Chhillar Biography in Hindi
Image Source: Khel Kabaddi

उन्हें प्रो कबड्डी लीग सीज़न 2 में सबसे मूल्यवान खिलाड़ी घोषित किया गया था। बेंगलुरु बुल्स ने उनके लिए 10 लाख की भारी कीमत चुकाई, लेकिन उनका प्रदर्शन उनके लिए हर पैसे के लायक था।

Kabaddi Player Manjeet Chhillar एक ही समय में टॉप 10 बेस्ट रेडर (Top 10 Best Raiders) और डिफेंडर सूची में शामिल होने वाले एकमात्र खिलाड़ी हैं।

2017 में, उन्हें अभिषेक बच्चन की स्वामित्व वाली टीम जयपुर पिंक पैंथर्स द्वारा 75.5 लाख रुपये में खरीदा गया था। कीमत ने एक बार फिर उसकी योग्यता और मूल्य साबित कर दिया।

प्रो कबड्डी लीग के सीज़न 6 में, मंजीत छिल्लर तमिलनाडु स्थित फ्रेंचाइजी द्वारा चुने जाने के बाद तमिल थलाइवाज में शामिल हो गए।

उन्होंने जल्द ही खुद को एक रक्षात्मक नेता के रूप में स्थापित कर लिया, और 8 रेड पॉइंट के साथ 59 टैकल पॉइंट की प्रभावशाली संख्या अर्जित की।

सीज़न 7 में थलाइवाज के साथ जारी रखते हुए, मंजीत ने टीम के अभियान में 37 टैकल पॉइंट और 4 रेड पॉइंट का योगदान दिया।

सीजन 8 की बात करें तो, नीलामी में मंजीत को दबंग दिल्ली ने 20 लाख रुपये में खरीद लिया। उनकी उपस्थिति मूल्यवान साबित हुई क्योंकि उन्होंने टीम को उसका पहला खिताब दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। पूरे सीज़न में, उन्होंने 24 खेलों में 52 टैकल पॉइंट हासिल करके अपने कौशल का प्रदर्शन किया।

सीज़न 8 के समापन के बाद, मंजीत ने पेशेवर कबड्डी से संन्यास की घोषणा की और तेलुगु टाइटन्स के लिए सहायक कोच की भूमिका में आ गए।

ये भी पढ़े: Total raid point of all PKL Team: PKL टीम का टोटल रेड पॉइंट

Manjeet Chhillar PKL Stats

Manjeet Chhillar Biography in Hindi
Image Source: prokabaddi.com

मंजीत के पास कुल 700 रेड हैं, जिसमें उन्होंने 220 रेड प्वाइंट हासिल किए हैं, पांच सुपर रेड और दो सुपर 10 भी उनके खाते में हैं।

इस शानदार ऑलराउंडर के पास न केवल अद्भुत आक्रमण आँकड़े हैं बल्कि उनका रक्षात्मक स्कोर और भी बेहतर है।

छिल्लर ने वीवो प्रो कबड्डी में किसी भी खिलाड़ी द्वारा सर्वाधिक 302 अंक अर्जित करते हुए 540 टैकल किए हैं।

उन्होंने लीग में सर्वाधिक 21 हाई 5 का रिकॉर्ड भी साझा किया है। मंजीत की आश्चर्यजनक टैकल सफलता दर 55.92% है।

मंजीत छिल्लर का परिवार | Manjeet Chhillar Family

Manjeet Chhillar Biography in Hindi: मंजीत छिल्लर के पिता जय प्रकाश हरियाणा पुलिस में कार्यरत थे। दुर्भाग्य से, 2012 में उनका निधन हो गया। उनकी मां एक गृहिणी हैं। उनके तीन भाई हैं, संदीप, आशीष और वीरेंद्र छिल्लर।

Manjeet Chillar Awards

  • अर्जुन पुरस्कार, 2015

मंजीत छिल्लर की उपलब्धियां | Manjeet Chillar Achievements

Manjeet Chhillar Biography in Hindi
Image Source: Twitter
  • PKL में सबसे मूल्यवान खिलाड़ी (2015)
  • गुआंगज़ौ में 2010 एशियाई खेलों में स्वर्ण
  • इंचियोन में 2014 एशियाई खेलों में स्वर्ण
  • 2016 कबड्डी विश्व कप विजेता
  • 2018 दुबई कबड्डी मास्टर्स विजेता

ये भी पढ़े: 10 Best Kabaddi Players of all time: 10 बेस्ट कबड्डी खिलाड़ी

Aditya Jaiswal
Aditya Jaiswalhttps://prokabaddilivescore.com/
आपका प्रो कबड्डी सूचना स्रोत। नवीनतम कबड्डी समाचार संवाददाताओं में से एक जो खेल पर कहानियां और रिपोर्ट लिखता है।

प्रो कबड्डी न्यूज़ इन हिंदी

कबड्डी हिंदी लेख