ads banner
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
अंतरराष्ट्रीयएमपी के कुरथर में खेले गए टूर्नामेंट में झांसी बना विजेता, भिंड...

एमपी के कुरथर में खेले गए टूर्नामेंट में झांसी बना विजेता, भिंड को दी मात

एमपी के कुरथर में खेले गए टूर्नामेंट में झांसी बना विजेता, भिंड को दी मात

एमपी के भिंड जिले की लहार तहसील के आलमपुर में आने वाले कुरथर गांव में चार दिन के लिए कबड्डी टूर्नामेंट का आयोजन किया गया था. जिसका फाइनल मैच शनिवार को खेला गया था. यहाँ इस टूर्नामेंट में फाइनल मुकाबला झाँसी और भिंड के बीच खेला गया था. जिसमें झांसी ने भिंड को हराते हुए यह खिताब अपने नाम कर लिया था. बता दें कुरथर गांव में चल रहे टूर्नामेंट का आयोजन 11 जनवरी को शुरू हुआ था. चार दिन चलें इस टूर्नामेंट में भिंड, झांसी, नौधा, असवार, चुरली, भांडेर, इन्दरगढ, तालगांव की टीमों के बीच मैच खेले गए थे.

झांसी ने फाइनल मुकाबले में भिंड को हराया

समापन कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में रमाशंकर कौरव मौजूद रहे थे. शनिवार को पहला सेमीफाइनल मुकाबला खेला गया था. जिसमें झांसी और असवार की टीम आमने-सामने थी. जिसमें झांसी ने शानदार खेल का प्रदर्शन किया था और फाइनल में जगह बनाई थी.

इसके बाद दूसरा सेमीफाइनल मुकाबला भिंड और चुरली के बीच खेला गया था. इस मुकाबले में भिंड ने चुरली को तीन सेटों में से दो सेटों में हराया था. टूर्नामेंट का फाइनल मैच काफी रोमांचक हुआ था. जिसमें भिंड, झांसी को दो सैटों में पराजित कर जीत हासिल की थी. विजेता टीम को 11 हजार का पुरस्कार मिला था. वहीं उपविजेता टीम को 51 सौर रुपए का पुरस्कार दिया गया था. इस मौके पर देवेन्द्र कौरव, जनक सिंह कौरव, जगत सिंह कौरव, बड़े सरपंच, अजीज पठान और आसपास के दर्शक भी मौजूद रहें थे.

सभी ने खिलाड़ियों का काफी उत्साहवर्धन किया था. और अतिथियों ने भी खिलाड़ियों को आगे बढ़ने के लिए हौसला दिया था. समान कार्यक्रम में अतिथियों ने सम्बोधित करते हुए कहा कि खिलाड़ियों को ऐसे टूर्नामेंट में आगे आना चाहिए और हिस्सा लेना चाहिए. इससे उनकी प्रतिभा में निखार आएगा और आगे जाने का अवसर भी प्रदान होगा.

बता दें खिलाड़ियों और टीम को मुख्य अतिथियों ने सम्मानित किया था.

Yash Sharma
Yash Sharmahttps://prokabaddilivescore.com/
मुझे 12 साल की उम्र से ही इस खेल में दिलचस्पी है। मैं प्रो कबड्डी का फैन हूं।

प्रो कबड्डी न्यूज़ इन हिंदी

कबड्डी हिंदी लेख