ads banner
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
खिलाड़ियोंइन 3 दिग्गजों ने Pardeep Narwal के साथ किया था PKL डेब्यू,...

इन 3 दिग्गजों ने Pardeep Narwal के साथ किया था PKL डेब्यू, लेकिन अब हो चुके है गायब

इन 3 दिग्गजों ने Pardeep Narwal के साथ किया था PKL डेब्यू, लेकिन अब हो चुके है गायब

प्रदीप नरवाल (Pardeep Narwal) प्रो कबड्डी लीग (PKL) के इतिहास में सबसे सफल रेडर हैं। उन्होंने अब तक 1,500 से ज्यादा रेड प्वाइंट हासिल किए हैं। ‘रिकॉर्ड ब्रेकर’ ने तीन बार पीकेएल ट्रॉफी जीती है और हाल ही में यूपी योद्धा को प्लेऑफ़ में पहुंचाया है।

कई प्रशंसकों को याद होगा कि प्रदीप नरवाल ने लीग के दूसरे संस्करण में पीकेएल में डेब्यू किया था। वह उस सीजन में बेंगलुरु बुल्स के साथ थे। हालांकि, बुल्स ने उनका ज्यादा इस्तेमाल नहीं किया क्योंकि उनके पास अजय ठाकुर, मंजीत छिल्लर और राजेश मोंडल जैसे कुछ बड़े नाम थे, जो रेडिंग यूनिट को कंधा देते थे।

परदीप नरवाल प्रमुख रूप से बेंगलुरु बुल्स के विकल्प के रूप में खेले। वह तीसरे सीज़न के लिए पटना पाइरेट्स में जाने के बाद चर्चा में आया। नरवाल उस सीजन में 116 रेड पॉइंट के साथ रेडर्स लीडरबोर्ड में शीर्ष पर थे। इसके बाद उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा और फिलहाल नंबर वन रेडर हैं।

कई अन्य खिलाड़ियों ने प्रदीप नरवाल (Pardeep Narwal) के साथ सीज़न 2 में PKL की शुरुआत की। उनमें से कुछ ने अपने अच्छे प्रदर्शन के कारण प्रसिद्धि भी प्राप्त की। हालांकि इनमें से कोई भी प्रदीप की तरह कंसिस्टेंसी बरकरार नहीं रख सका। यहां ऐसे ही तीन खिलाड़ियों की सूची दी गई है।

1) रोहित कुमार

रोहित कुमार चौधरी ने दूसरे सीज़न में दबंग दिल्ली केसी के लिए अपने शानदार प्रदर्शन से सभी का ध्यान आकर्षित किया। वह उस सीज़न में रेडर्स लीडरबोर्ड के शीर्ष 10 में रहे, उन्होंने 14 मैचों में 61 रेड पॉइंट बनाए।

अगले संस्करण में प्रशंसकों को रोहित से बहुत उम्मीदें थीं, लेकिन वह अपने सीजन 2 के प्रदर्शन को दोहरा नहीं सके। रोहित ने पुनेरी पल्टन और यूपी योद्धास में भी स्विच किया। हालांकि, वह अपने करियर को पुनर्जीवित नहीं कर सके। उनकी अंतिम उपस्थिति सीजन 6 में आई, जहां उन्होंने 22 रेड में तीन अंक अर्जित किए।

2) सोनू नरवाल ने Pardeep Narwal के साथ की थी शुरुआत

सोनू नरवाल ने सीजन 2 में जयपुर पिंक पैंथर्स के लिए अपना पीकेएल डेब्यू किया। उन्होंने 11 मैचों में 51 रेड पॉइंट अर्जित किए, जिसमें एक सुपर 10 भी शामिल है। ऐसा लग रहा था कि वह आने वाले सीज़न में जयपुर के लिए शीर्ष रेडर बन जाएंगे।

नरवाल ने अगले सीज़न में 55 रेड पॉइंट बनाए और सीज़न 4 के लिए पुनेरी पल्टन चले गए। पुणे की जर्सी पहनकर उन्होंने 11 मैचों में 32 पॉइंट अर्जित किए।

चौथे सत्र के बाद सोनू नरवाल ने कोई प्रो कबड्डी मैच नहीं खेला। सीजन 5 में उन्हें हरियाणा स्टीलर्स द्वारा चुना गया था लेकिन शारीरिक रूप से अयोग्य होने के कारण उन्हें टीम से हटा दिया गया था।

3) मेराज शेख

ईरानी ऑलराउंडर मेराज शेख ने सीज़न 2 में Pardeep Narwal के साथ शुरुआत की थी। मेराज ने तेलुगु टाइटन्स के लिए अपना पीकेएल डेब्यू किया। शेख ने उस सीज़न में 15 मैच खेले, जिसमें 38 अंक अर्जित किए। उन्होंने उस टूर्नामेंट में तीन सुपर रेड को अंजाम दिया और एक सुपर 10 दर्ज किया।

शेख ने दबंग दिल्ली केसी में जाने से पहले तेलुगु टाइटन्स के लिए एक और सीज़न खेला। ईरानी स्टार सीज़न 4 और 5 में शीर्ष स्कोरर थे, लेकिन पांचवें संस्करण के बाद उनके प्रदर्शन में गिरावट आई।

वह छठे और सातवें संस्करण में दिल्ली का प्रतिनिधित्व करते रहे, लेकिन वैसा प्रभाव नहीं डाल सके। सीजन 7 में, शेख 19 मैचों में केवल 42 अंकों के साथ समाप्त हुआ। उन्होंने सातवें सीजन के बाद से कोई प्रो कबड्डी लीग मैच नहीं खेला है।

ये भी पढ़ें: PKL में सबसे तेज 200 Raid Point तक पहुंचने वाले टॉप 4 खिलाड़ी कौन है?

  • कबड्डी टूर्नामेंट सीरीज
  • PKL 9
Aditya Jaiswal
Aditya Jaiswalhttps://prokabaddilivescore.com/
आपका प्रो कबड्डी सूचना स्रोत। नवीनतम कबड्डी समाचार संवाददाताओं में से एक जो खेल पर कहानियां और रिपोर्ट लिखता है।

प्रो कबड्डी न्यूज़ इन हिंदी

कबड्डी हिंदी लेख