ads banner
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
टीमोंBengaluru Bulls का PKL 10 Season कैसा रहा? जाने Report Card

Bengaluru Bulls का PKL 10 Season कैसा रहा? जाने Report Card

Bengaluru Bulls का PKL 10 Season कैसा रहा? जाने Report Card

Bengaluru Bulls PKL 10 Season Report Card: पीकेएल 9 में एक उल्लेखनीय अभियान के बाद, पीकेएल 10 में बेंगलुरु बुल्स के लिए पासा पूरी तरह से बदल गया।

बुल्स सर्वश्रेष्ठ टीमों में से एक होने और पीकेएल 9 में तीसरे स्थान पर रहने के कारण पीकेएल 10 में ग्रुप चरणों से आगे नहीं बढ़ पाई।

बेंगलुरु बुल्स की सीज़न की शुरुआत ख़राब रही और उन्हें अपने शुरुआती चार मैचों में लगातार चार हार का सामना करना पड़ा। और उसके बाद, यह बुल्स के लिए एक ऊबड़-खाबड़ और असंगत सवारी थी।

वे आठ जीत, 12 हार और दो ड्रॉ सहित 53 अंकों के साथ तालिका में छठे स्थान पर रहे।

उस नोट पर, आइए एक नजर डालते हैं कि पीकेएल 6 चैंपियन के लिए सीज़न कैसा रहा।

Bengaluru Bulls PKL 10 Season Review

टॉप परफॉर्मर

  • भारत: भरत निस्संदेह बुल्स के लिए सबसे लगातार प्रदर्शन करने वालों में से एक था। वह उनके सर्वोच्च अंक पाने वाले खिलाड़ी थे क्योंकि उन्होंने 18 मैचों में 109 अंक अर्जित किए थे।

उनके पास चार सुपर 10 और तीन सुपर रेड हैं और प्रति मैच उनका औसत लगभग छह रेड अंक है। भारत का सक्सेस रेट 37% और नॉट-आउट रेट 69.12% था।

  • सुशील: सुशील बेंगलुरु बुल्स के लिए दूसरे सबसे ज्यादा अंक हासिल करने वाले खिलाड़ी थे। रेडर ने 16 मैचों में 100 रेड पॉइंट बनाए और ट्रिपल-डिजिट का आंकड़ा छूने वाले बुल्स कैंप के केवल दूसरे खिलाड़ी हैं।

सुशी निस्संदेह इस सीज़न में सबसे बेहतर खिलाड़ियों में से एक है क्योंकि वह इस सीज़न में पीकेएल 9 में 17 अंकों से 100 अंकों तक पहुंच गया है।

  • सुरजीत सिंह: सुरजीत सिंह बेंगलुरु बुल्स की बैकलाइन के बीच में एक दीवार की तरह खड़े थे। सही कवर ने बुल्स को एक अच्छा रक्षात्मक रिकॉर्ड बनाए रखने में मदद करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

बेंगलुरु की मजबूत संरचना के पीछे कप्तान सौरभ नंदल के साथ उनका तालमेल एक महत्वपूर्ण कारक था। डिफेंडर एक सुपर रेड सहित 60 अंक जुटाने में सफल रहा।

सीज़न में अंडरपरफॉर्मर

विकास कंडोला

विकास कंडोला सभी की उम्मीदों पर खरे नहीं उतर सके क्योंकि वह अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं कर सके। अनुभवी रेडर को पीकेएल 10 की नीलामी के दौरान बुल्स ने बरकरार रखा था, लेकिन वह उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाया।

वह पिछले सीज़न में लीग के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों में से एक थे और उन्होंने 139 अंक बनाए थे, लेकिन इस सीज़न में केवल 70 अंक ही जुटा पाए।

कुछ खिलाड़ियों ने किया चकित

जहां कुछ खिलाड़ी प्रचार के अनुरूप प्रदर्शन करने में विफल रहे, वहीं कुछ खिलाड़ी बेंगलुरु बुल्स के लिए मशाल वाहक बनकर उभरे।

अक्षित ने अपने पहले सीज़न में 61 अंक जुटाए और प्रति मैच औसतन 6 अंक हासिल किए। कप्तान सौरभ नंदल का अभियान भी अच्छा रहा और उन्होंने 21 मैचों में 49 अंक हासिल किये।

टॉप परफॉर्मेंस

  • हरियाणा स्टीलर्स 39-53 बेंगलुरु बुल्स
  • बेंगलुरु बुल्स 32-30 जयपुर पिंक पैंथर्स
  • बेंगलुरु बुल्स 35-33 पटना पाइरेट्स

Bengaluru Bulls PKL 10 Season Report Card

बेंगलुरु बुल्स के मुख्य कोच रणधीर सिंह सहरावत पीकेएल के इतिहास में लीग की शुरुआत के बाद से एक ही फ्रेंचाइजी से जुड़े एकमात्र कोच हैं।

मैनेजर लीग की गतिशीलता से अच्छी तरह वाकिफ है और उसने पिछले कुछ वर्षों में बुल्स के साथ बहुत सराहनीय काम किया है।

हालाँकि, इस सीज़न में बुल्स प्लेऑफ़ में जगह बनाने में असफल रहे और उनके नेतृत्व में 12 हार का सामना करना पड़ा।

उन्होंने अतीत में अपनी टीम को ऐसी स्थितियों से बाहर निकाला है और उम्मीद है कि आगामी सीज़न में भी ऐसा ही करेंगे।

इसके अलावा, हमेशा की तरह उन्होंने सुशील और अक्षित जैसे युवा खिलाड़ियों को विकसित किया है जो भविष्य में टीम के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे।

Bengaluru Bulls को क्या सीखना चाहिए?

इस सीज़न में बेंगलुरु बुल्स की मुख्य ताकत उनकी रक्षा थी, लेकिन उनके रेडरों ने निराश किया। उन्हें अपनी गलतियों से सीखने और ड्रॉइंग बोर्ड पर वापस जाने और टीम में सही संतुलन लाने के लिए आवश्यक बदलाव करने की जरूरत है।

इसके अलावा, उन्हें एक बेहतर और अधिक विश्वसनीय छापेमारी विभाग भी विकसित करने की जरूरत है।

Also Read: Pro Kabaddi के 5 ऐसे मौके जब खिलाड़ी हुए Injured

Pro Kabaddi 11 की Starting Date क्या होगी?

PKL 11 जुलाई 2024 में शुरू होने की संभावना है। पीकेएल सीजन 10 के पूरा होने के सिर्फ पांच महीनों के भीतर, आयोजकों को अगले पीकेएल सीजन की शुरुआत करने की उम्मीद है।

खेल नाउ के अनुसार, आयोजक पीकेएल के आयोजन के लिए कैलेंडर वर्ष के पुराने कार्यक्रम का सहारा लेना चाहेंगे। शुरुआती वर्षों में पीकेएल का आयोजन जुलाई से सितंबर के बीच किया जाता था।

संभावना है कि मशाल स्पोर्ट्स पीकेएल 11 से पहले पुराना शेड्यूल (PKL 11 Schedule) वापस लाएगा और लीग जुलाई और सितंबर के बीच खेली जाएगी।

पिछले तीन सीज़न (पीकेएल 8, 9, 10) दिसंबर-फरवरी विंडो के बीच खेले गए थे। आयोजकों का मानना ​​है कि आगामी सीज़न लीग को मूल विंडो के अनुसार खेले जाने का उपयुक्त मौका है।

Pro Kabaddi League Season 11 के बारे में आयोजकों ने क्या कहा?

खेल नाउ के अनुसार, आयोजकों का मानना ​​है कि लीग के सफल होने के लिए जुलाई-सितंबर की विंडो सबसे अच्छी होगी। 2024 में, यही अवधि (Pro Kabaddi 11 Start Date) सबसे कम खेल गतिविधियों वाली होगी, और यह देश में कबड्डी के खेल के विकास को बढ़ावा देगी।

खेल नाउ के अनुसार, आयोजक टूर्नामेंट को उसकी मूल जुलाई-सितंबर विंडो पर वापस लाने के इच्छुक हैं। चूंकि यह देश में सबसे कम अव्यवस्थित खेल कैलेंडर वाला समय है, उनका मानना ​​है कि यह लीग के लिए अधिकतम ध्यान आकर्षित करने के लिए आदर्श रूप से उपयुक्त है।

लीग की निश्चित शुरुआत तिथि, कार्यक्रम, स्थान और प्रारूप की घोषणा उचित समय पर की जाएगी।

Also Read: PKL 2023 के 5 Best Youngsters जो भारतीय टीम मे होंगे शामिल?

  • कबड्डी टूर्नामेंट सीरीज
  • PKL 11
Aditya Jaiswal
Aditya Jaiswalhttps://prokabaddilivescore.com/
आपका प्रो कबड्डी सूचना स्रोत। नवीनतम कबड्डी समाचार संवाददाताओं में से एक जो खेल पर कहानियां और रिपोर्ट लिखता है।

प्रो कबड्डी न्यूज़ इन हिंदी

कबड्डी हिंदी लेख