ads banner
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
टीमोंPro Kabaddi 9 में पुनेरी पल्टन का वो निर्णय जो गलत साबित...

Pro Kabaddi 9 में पुनेरी पल्टन का वो निर्णय जो गलत साबित हुआ

Pro Kabaddi 9 में पुनेरी पल्टन का वो निर्णय जो गलत साबित हुआ

पुनेरी पल्टन ने Pro Kabaddi 9 में अपना सर्वश्रेष्ठ सीजन खेला था। पुणे स्थित फ्रेंचाइजी पहली बार टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंची थी। वे अपना पहला खिताब भी जीतने के करीब थे लेकिन अंत में जयपुर पिंक पैंथर्स ने उन्हें चार अंकों से हरा दिया।

कुल मिलाकर, Pro Kabaddi 9 सीज़न के दौरान पुनेरी पल्टन का दबदबा रहा। वे अपने पहले तीन मैच नहीं जीत सके लेकिन एक बार जब उन्होंने अपनी पहली जीत दर्ज की तो पल्टन अजेय हो गई। पुणे स्थित फ्रेंचाइजी 22 मैचों में 80 अंकों के साथ अंक तालिका में दूसरे स्थान पर रही।

अब Pro Kabaddi 9 का समापन हो गया है, हम पुनेरी पल्टन के प्रदर्शन की समीक्षा करते हैं और उनके अभियान के नकारात्मक पहलुओं पर नजर डालते है।

चीजें जो गलत हुई – मोहम्मद नबीबख्श की भूमिका

फ़ज़ल अत्राचली की तरह, पुनेरी पलटन ने प्रो कबड्डी 2022 की नीलामी में ईरानी ऑलराउंडर मोहम्मद नबीबख्श को साइन करने के लिए पूरी कोशिश की। उन्होंने ईरानी स्टार को खरीदने के लिए नीलामी में ₹87 लाख खर्च किए।

नबीबख्श उन कुछ खिलाड़ियों में से एक हैं जो लगभग हर स्थिति में प्रदर्शन कर सकते हैं। हालांकि वह एक बहुमुखी खिलाड़ी हैं, लेकिन उन्हें उनकी भूमिका के बारे में भी स्पष्टता देना जरूरी है।

सीजन शुरू होने से पहले ऐसा लग रहा था कि नबीबख्श टीम के तीसरे रेडर होंगे, लेकिन टूर्नामेंट के दौरान उन्होंने रेडर से ज्यादा डिफेंडर के रूप में खेला।

स्पष्टता की कमी ने नबीबख्श के प्रदर्शन को प्रभावित किया क्योंकि उन्होंने Pro Kabaddi 9 में केवल 36 अंक अर्जित किए। यह पहली बार था जब ईरानी स्टार पीकेएल सीजन में 100 अंकों के आंकड़े को छूने में नाकाम रहे।

ये भी पढ़ें:  

  • कबड्डी टूर्नामेंट सीरीज
  • PKL 9
Aditya Jaiswal
Aditya Jaiswalhttps://prokabaddilivescore.com/
आपका प्रो कबड्डी सूचना स्रोत। नवीनतम कबड्डी समाचार संवाददाताओं में से एक जो खेल पर कहानियां और रिपोर्ट लिखता है।

प्रो कबड्डी न्यूज़ इन हिंदी

कबड्डी हिंदी लेख