ads banner
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
अंतरराष्ट्रीयजम्मू-कश्मीर के लाल ने नेपाल में लहराया तिरंगा, जीता अन्तर्राष्ट्रीय कबड्डी टूर्नामेंट

जम्मू-कश्मीर के लाल ने नेपाल में लहराया तिरंगा, जीता अन्तर्राष्ट्रीय कबड्डी टूर्नामेंट

जम्मू-कश्मीर के लाल ने नेपाल में लहराया तिरंगा, जीता अन्तर्राष्ट्रीय कबड्डी टूर्नामेंट

जम्मू-कश्मीर के परगवाल क्षेत्र के गांव नबलचक के रहने वाले साहिल सिंह चिब ने अंडर-14 कबड्डी प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक अपने नाम किया है. यह प्रतियोगिता नेपाल में आयोजित की गई थी. इस प्रतियोगिता को जीतकर क्षेत्र का नाम रोशन किया है. साहिल आठवीं का छात्र है और इस समय हरियाणा में रहकर पढ़ाई कर रहा है. खेल प्रति उसका प्रेम बचपन से ही रहा है और इसी के चलते वह कबड्डी की ट्रेनिंग ले रहा था.

जम्मू-कश्मीर के साहिल ने नेपाल में बनाया कीर्तिमान

अंडर-14 कबड्डी प्रतियोगिता में साहिल ने शानदार खेल का प्रदर्शन किया था और सभी का दिल जीत लिया था. इसी के साथ उन्होंने इस टूर्नामेंट को जीतकर इतिहास भी रच दिया है. भारत का प्रतिनिधित्व करते हुए उन्होंने स्वर्ण पदक अपनी झोली में डाला और देश का मान बढ़ाया है. नेपाल में आयोजित हुई इस प्रतियोगिता में नेपाल और भारत का ही फाइनल मुकाबला खेला गया था. जिसमें भारतीय टीम ने शानदार खेल का प्रदर्शन किया था. फाइनल मुकाबले में साहिल ने शानदार प्रदर्शन किया था. जिसके चलते ही उनका टीम की जीत में अहम योगदान रहा था.

फाइनल मुकाबले में शुरू से ही भारत का दबदबा रहा था. नेपाल को भारतीय टीम ने हावी नहीं होने दिया और पॉइंट्स बटोरते गए. जिसके चलते भारत को मुकाबले में काफी बढ़त मिल चुकी थी. टूर्नामेंट में और भी कई देशों की टीमों ने हिस्सा लिया था लेकिन भारतीयत टीम ने सबको पछाड़ते हुई यह ख़िताब अपने नाम किया था. इससे पहले भी नेपाल में आयोजित हुई कई कबड्डी प्रतियोगिताएं में भारतीय टीम जीत दर्ज कर चुकी है.

अंडर-14 प्रतियोगिता जीतने पर साहिल का उनके गांव में धूम-धाम से स्वागत किया गया था. इस दौरान सारे ग्रामवासियों और बीडीसी चेयरपरसों निशा कुमार और भाजपा के मंडल प्रधान बलविन्द्र सिंह ने भी उनका स्वागत किया था. इस दौरान पूरे गांव में उनका जुलुस निकला गया था और ढ़ोल-नगाड़ो से स्वागत किया गया था. गांव के लोगों ने भरी उत्साह के साथ साहिल का स्वागत किया था. बता दें बचपन से ही साहिल में खेल प्रतिभा छुपी हुई है. जिसके चलते वह अब तक कई राष्ट्रीय और अन्तर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में हिस्सा ले चुका है.

 

Yash Sharma
Yash Sharmahttps://prokabaddilivescore.com/
मुझे 12 साल की उम्र से ही इस खेल में दिलचस्पी है। मैं प्रो कबड्डी का फैन हूं।

प्रो कबड्डी न्यूज़ इन हिंदी

कबड्डी हिंदी लेख