ads banner
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
समाचारमाउंटआबू में कर्मचारियों और अधिकारियों ने खेली कबड्डी, रानीखेड़ा टीम जीती

माउंटआबू में कर्मचारियों और अधिकारियों ने खेली कबड्डी, रानीखेड़ा टीम जीती

माउंटआबू में कर्मचारियों और अधिकारियों ने खेली कबड्डी, रानीखेड़ा टीम जीती

राजस्थान के माउंटआबू में कबड्डी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था. शनिवार रविवार को आयोजित हुई इस कबड्डी प्रतियोगिता में विद्युत् विभाग के तमाम अधिकारीयों ने हिस्सा लिया था. गणतंत्र दिवस के उपलक्ष्य में पहले से आयोजित हुई इस प्रतियोगिता में अधिकारीयों का जोश देखने लायक था. जोधपुर विद्युत् वितरण निगम लिमिटेड वृत्त क्षेत्र जालोर के विभिन्न कार्यालयों के अधिकारीयों ने इसमें हिस्सा लिया था. वहीं रविवार को फाइनल मुकाबले का भी आयोजन किया गयया था.

माउंटआबू में कर्मचारियों ने मैदान में दिखाया दमखम

कबड्डी का फाइनल मुकाबला रानीवाड़ा और सांचौर के बीच हुआ था. जिसमें अधिकारियों ने जमकर कबड्डी का खेल दिखाया था. इस दौरान अधिकारीयों ने कबड्डी के खेल में विरोधी टीम को हावी नहीं होने दिया था. रानीवाड़ा की टीम शुरू से ही अपना दमखम दिखा रही थी. वहीं विरोधी टीम सांचौर के खिलाड़ी पस्त नजर आ रहे हठे. सांचौर के खिलाड़ी मात्र आठ पॉइंट्स ही जमा कर सके जबकि रानीवाड़ा की टीम ने 17 पॉइंट्स हासिल कर जीत दर्ज की थी.

इस टूर्नामेंट में निर्णायक की भूमिका के तौर पर विनोद आर्य, कृष्ण कुमार तिवारी, धीरज दवे, कन्हैयालाल मिश्रा, धनवंत गहलोत, जयनारायण परिहार ने अहम भूमिका निभाई थी. एसई महेश व्यास ने खिलाड़ियों की हौसला आफजाई भी की थी. कार्यक्रम को प्रावैधिक सहायक अधिक्षण अभियंता नारायण लाल सुथार, भरत देवड़ा, शहजाद खान ने सम्बोधित किया था.
इस दौरान उन्होंने कहा कि विभाग स्तर पर भी ऐसी प्रतियोगिता होनी जरूरी है. जिससे कर्मचारियों का भी मनोरंजन हो सके और उनमें भी और प्रतिभा निखर कर सामने आ सके. साथ ही दर्शकों ने भी खिलाड़ियों और कर्मचारियों का जमकर उत्साहवर्धन किया था. दो दिन चली इस प्रतियोगिता में अधिकारीयों ने कबड्डी में ही नहीं अन्य खेलों में भी भाग लिया.
इस दौरान समापन समारोह पर विजेताओं को ट्रॉफी देकर भी सम्मानित किया गया था. औ मुख्यअतिथियों ने कहा कि इस तरीके के टूर्नामेंट होते रहने चाहिए.
Yash Sharma
Yash Sharmahttps://prokabaddilivescore.com/
मुझे 12 साल की उम्र से ही इस खेल में दिलचस्पी है। मैं प्रो कबड्डी का फैन हूं।

प्रो कबड्डी न्यूज़ इन हिंदी

कबड्डी हिंदी लेख