ads banner
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
खिलाड़ियोंमोतिहारी में खेलकूद प्रतियोगिताओं का आयोजन, कबड्डी में खिलाड़ियों का दिखा उत्साह

मोतिहारी में खेलकूद प्रतियोगिताओं का आयोजन, कबड्डी में खिलाड़ियों का दिखा उत्साह

मोतिहारी में खेलकूद प्रतियोगिताओं का आयोजन, कबड्डी में खिलाड़ियों का दिखा उत्साह

बिहार के चम्पारण जिले में स्थित मोतिहारी के नेहरू स्टेडियम में तीन दिन के लिए खेलकूद प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था. इस प्रखंड स्तर पर खेली गई प्रतियोगिता में कई टीमों के बीच मैच का आयोजन हुआ था. इस खेल-कूद प्रतियोगिता में कई खेलों का आयोजन किया गया था. वहीं कबड्डी खेल का भी धूमधाम से आयोजन हुआ था. मोतिहारी में इतने बड़े स्तर पर खेल का आयोजन होने से खिलाड़ियों के साथ-साथ आसपास के क्षेत्रवासियों में भी उत्साह का माहौल बना हुआ था. सभी प्रतिभागियों ने इसमें जोरदार खेला प्रदर्शन कर अपनी दावेदारी स्थापित की थी.

मोतिहारी में अधिकारियों ने दिया सम्मान

इस मौके पर कार्यक्रम एसडीओ श्रेष्ठ अनुपम, खेल पदाधिकारी गौरव कुमार, बीडीओ रौशनी कुमारी, उपमेयर डॉक्टर लालबाबू प्रसाद, बीइओ राकेश मिश्र, तारिणी दास ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर प्रतियोगिता के अंतिम दिन एथलेटिक्स स्पर्धा का उद्घाटन किया था. इस अवसर पर सदर एसडीओ ने शिक्षा के साथ खेल को भी आवश्यक बताया और उन्होंने कहा कि, ‘शिक्षा से ज्ञान की प्राप्ति होती है जबकि खेल से शारीरिक विकास भी होता है और टीम भावना भी विकसित होती है.’

उन्होंने आगे बताया कि, ‘खेलों से लोग एक-दूसरे से जुड़ते है और उनमें आपसी मेलजोल भी बढ़ता है. खिलाड़ियों ने काफी शानदार खेल का प्रदर्शन किया था. ‘वहीं इस मौके पर पहुंचे खेल पदाधिकारी गौरव कुमार ने कहा कि, ‘टूर्नामेंट का उद्देश्य ग्रामीण प्रतिभाओं को आगे लाना है. और उनका स्तर बढ़ाना है. इससे उनमें राज्य, राष्ट्र और अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर जाने की लगन पैदा होगी और एक प्लेटफॉर्म मिलेगा जहां वह अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर सकेंगे.’

उन्होंने आगे कहा कि, ‘प्रखंड स्तर पर चयनित खिलाड़ियों को जिला स्तर की प्रतियोगिता में भाग लेने का मौका भी मिलेगा.’ बीडीओ रोशनी कुमारी ने कहा कि, ‘जहां टूर्नामेंट है वहां कोई जीतेगा ही यदि कोई जीत रहा है तो किसी का हारना भी निश्चित है. हार जिन्दगी के किसी मोड़ पर हो सकती है.’

इस टूर्नामेंट में देर शाम को पदाधिकारियों ने विजेताओं को सम्मानित किया था. साथ ही ट्रॉफी, मेडल और प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया था.

 

Yash Sharma
Yash Sharmahttps://prokabaddilivescore.com/
मुझे 12 साल की उम्र से ही इस खेल में दिलचस्पी है। मैं प्रो कबड्डी का फैन हूं।

प्रो कबड्डी न्यूज़ इन हिंदी

कबड्डी हिंदी लेख