ads banner
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
समाचारPKL 10: यहां जानें Gujarat Giants की ताकत और कमजोरियां

PKL 10: यहां जानें Gujarat Giants की ताकत और कमजोरियां

PKL 10: यहां जानें Gujarat Giants की ताकत और कमजोरियां

PKL 10: प्रो कबड्डी लीग (Pro Kabaddi League) में अपना पहला खिताब जीतने के लक्ष्य के साथ गुजरात जायंट्स (Gujarat Giants) की टीम एक मजबूत टीम के साथ आगामी सीजन में प्रवेश कर रही है। टीम का नेतृत्व अनुभवी फजल अत्राचली (Fazel Atrachali) करेंगे और कोच राम मेहर सिंह (Ram Meher Singh) पिछले साल आठवें स्थान पर रहने के बाद टीम की किस्मत बदलना चाहते हैं। लेकिन यहां हम आपको इस टीम से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण बातें बताने जा रहे हैं। जिन्हें आपको अवश्य जानना चाहिए।

ये भी पढ़ें- PKL 2023: यहां देखें U Mumba का शेड्यूल और मैचों की लिस्ट

PKL 10: गुजरात जायंट्स की ताकत
गुजरात जायंट्स ने इस साल नीलामी में अनुभवी फजल अत्राचली की सेवाएं 1.6 करोड़ में हासिल कीं। फजल के रूप में टीम के पास एक बेहतरीन डिफेंडर के साथ-साथ एक सक्षम लीडर भी है।

उनके रहते टीम की डिफेंस सबसे बड़ी ताकत होगी। फजल को रोहित गुलिया, सौरव गुलिया, मोहम्मद नाभिबक्श, सोमबीर और अरकम शेख का भी ठोस समर्थन प्राप्त है। यह जायंट्स को आगामी सीजन में कागज पर डिफेंस में सर्वश्रेष्ठ टीमों में से एक बनाता है।

PKL 10: गुजरात जायंट्स की कमजोरी
गुजरात जायंट्स के आक्रमण का नेतृत्व युवा राकेश संगरोया और प्रतीक दहिया करेंगे। हालांकि दोनों खिलाड़ियों ने पिछले सीजन में अच्छा प्रदर्शन किया है, लेकिन उनके पास अनुभव की कमी है।

सोनू जगलान, नाभिबख्श, जीबी मोरे भी टीम में हैं और वे युवा जोड़ी को समर्थन दे सकते हैं। हालांकि हाल के दिनों में रेडस में उनका प्रदर्शन उल्लेखनीय नहीं रहा है।

PKL 10: गुजरात जायंट्स के पास अवसर
रोहित गुलिया, अरकम शेख और मोहम्मद नाभिबक्श जैसे ठोस ऑलराउंडरों के साथ गुजरात जायंट्स के पास आक्रमण और रक्षा दोनों में विभिन्न संयोजनों को आजमाने का अवसर है। इससे टीम को अपने विरोधियों पर थोड़ी बढ़त हासिल करने में मदद मिल सकती है। क्योंकि वे उन्हें सतर्क रख सकते हैं और उन्हें अनुमान लगाने के लिए छोड़ सकते हैं।

गुजरात जाइंट्स के संयोजन में अनुभव और युवाओं का एक मजबूत मिश्रण है। हालांकि उनका अनुभव डिफेंस से अधिक जुड़ा हुआ है। उन्हें टीम के लिए काम करने के लिए युवा रेडरों पर निर्भर रहना होगा।

हालांकि यह राकेश और प्रतीक जैसों को टूर्नामेंट में बड़ा प्रदर्शन करने का मौका देता है, लेकिन यह भी देखना होगा कि वे दबाव को कैसे संभालते हैं। पिछले सीजन में आठवें स्थान पर रहने के बाद अत्राचली के नेतृत्व वाले दिग्गजों से इस सीजन में अच्छा प्रदर्शन करने की उम्मीदें अधिक होंगी।

PKL 10: गुजरात जायंट्स की टीम
रेडर: राकेश संगरोया, प्रतीक दहिया, जीबी मोरे, सोनू जागलान

डिफेंडर: फजल अत्राचली, सोमबीर, सौरव गुलिया, दीपक राजेंदर, रवि कुमार, मनुज, नितेश, जगदीप

ऑलराउंडर: रोहित गुलिया, मोहम्मद नाभिबक्श, अरकम शेख, विकास जगलान, रोहन सिंह, जितेंद्र यादव, डी बालाजी

PKL 2023: कारवां फॉर्मेट में लौटेगी प्रो कबड्डी लीग

2019 के बाद, प्रो कबड्डी लीग अपने कारवां प्रारूप में लौटने के लिए तैयार है। पहला चरण 2 दिसंबर को अहमदाबाद में शुरू होगा और 7 दिसंबर को समाप्त होगा। फिर पीकेएल 8-13 दिसंबर तक बेंगलुरु चला जाएगा। पुणे 15-20 दिसंबर तक चलता है। चेन्नई 22-27 दिसंबर तक पीकेएल एक्शन का गवाह बनेगा।

नए साल का जश्न नोएडा में मनाया जाएगा, जिसमें 29 दिसंबर से 3 जनवरी तक मैच खेले जाएंगे। प्रो कबड्डी का कारवां अगला कदम मुंबई, उसके बाद जयपुर और हैदराबाद का है। 26 जनवरी से पटना एक्शन का गवाह बनेगा. दिल्ली, कोलकाता और पंचकुला अंतिम गंतव्य होंगे।

  • कबड्डी टूर्नामेंट सीरीज
  • PKL
  • PKL 10

प्रो कबड्डी न्यूज़ इन हिंदी

कबड्डी हिंदी लेख