ads banner
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
समाचारPKL 10:Pink Panthers के पहले 7 में शामिल हो सकते ये खिलाड़ी

PKL 10:Pink Panthers के पहले 7 में शामिल हो सकते ये खिलाड़ी

PKL 10:Pink Panthers के पहले 7 में शामिल हो सकते ये खिलाड़ी

PKL 10: जयपुर पिंक पैंथर्स (Jaipur Pink Panthers) ने पिछले सीजन प्रो कबड्डी लीग (Pro Kabaddi League) का खिताब जीता था। यह दूसरी बार था जब जयपुर पिंक पैंथर्स ने पीकेएल (PKL) का खिताब जीता। इससे पहले टीम ने 2014 में खेले गए पहले सीजन में खिताब जीता था और फिर लंबे अंतराल के बाद 9वें सीजन में टीम ने दूसरी बार ट्रॉफी पर कब्जा किया था। पिछले सीजन में जयपुर ने खिताब जीता था और यही वजह है कि मैनेजमेंट ने ज्यादातर खिलाड़ियों को बरकरार रखा और उन्हें नीलामी में ज्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ी। पैंथर्स ने अनुभवी रेडर राहुल चौधरी सहित केवल सात खिलाड़ियों को खरीदा।

जयपुर पिंक पैंथर्स की बात करें तो इस बार उनके पास कुल 19 खिलाड़ी हैं, जिनमें से 10 रेडर और 9 डिफेंडर हैं। ऐसे में पैंथर्स को प्लेइंग सेवन बनाने में ज्यादा दिक्कत नहीं होगी। चूंकि ज्यादातर पुराने खिलाड़ी टीम का हिस्सा हैं, इसलिए टीम के शुरुआती सात खिलाड़ी भी पूरी तरह से सेट हैं और इससे माथापच्ची करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। आइए जानते हैं जयपुर पिंक पैंथर्स के शुरुआती सात में कौन से खिलाड़ी शामिल हो सकते हैं।

ये भी पढ़ें- Aravalli Arrows ने जीता Yuva Kabaddi Series 2023 का खिताब

PKL 10: रेडिंग में कई बड़े नाम हैं मौजूद
इस बार भी जयपुर पिंक पैंथर्स के पास रेडिंग विभाग में वही विकल्प हैं। जो पिछले सीजन में खेले थे। रेडिंग विभाग में अर्जुन देशवाल, राहुल चौधरी, भवानी राजपूत और वी अजीत कुमार प्रमुख खिलाड़ी हैं। हालांकि, राहुल चौधरी को शुरुआती सात में मौका नहीं मिल सकता है और उन्हें विकल्प के तौर पर लाया जा सकता है। क्योंकि पिछले सीजन में उनका प्रदर्शन उतना अच्छा नहीं था और इस वजह से टीम ने उन्हें रिलीज कर दिया था। लेकिन नीलामी के दौरान उन्हें दोबारा खरीद लिया गया। ऐसे में अर्जुन देशवाल, भवानी राजपूत और वी अजीत कुमार को मौका मिल सकता है।

अगर अर्जुन देशवाल की बात करें तो वह पिछले दो सीजन में काफी अच्छे रेडर बनकर उभरे हैं और टीम के लिए स्टार खिलाड़ी साबित हुए हैं। अर्जुन देशवाल ने पिछले सीजन में सबसे ज्यादा रेड प्वाइंट हासिल किए थे और इसके अलावा करो या मरो रेड में प्वाइंट हासिल करने के मामले में भी वह तीसरे स्थान पर रहे थे। वी अजीत कुमार ने 9वें सीजन के दौरान अर्जुन देशवाल का बहुत अच्छा समर्थन किया। अजीत कुमार ने 21 मैचों में 103 अंक बनाए। इसके अलावा भवानी राजपूत भी काफी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं।

PKL 10: डिफेंस में सुनील कुमार करेंगे नेतृत्व
इस बार भी टीम का डिफेंस पिछले सीजन जैसा ही है और इस वजह से टीम को यहां भी कोई परेशानी नहीं होने वाली है। सुनील कुमार राइट कवर पोजीशन पर और साहुल कुमार राइट कॉर्नर पोजीशन पर खेलेंगे। रिजा मीरबाघेरी बाएं कवर पर खेल सकते हैं और टीम के पास बाएं कोने की स्थिति नियंत्रण में है। अंकुश पिछले सीजन में सबसे अधिक टैकल पॉइंट हासिल करने वाले खिलाड़ी थे। अपने डेब्यू सीजन में ही उन्होंने सबसे ज्यादा 89 टैकल प्वाइंट्स हासिल किए और सबसे ज्यादा 9 हाई-फाइव भी दिए। अगर जयपुर की टीम डिफेंडिंग चैंपियन है तो इसका काफी श्रेय अंकुश को दिया जाना चाहिए।

अगर सुनील कुमार की बात करें तो उन्होंने महज 23 मैचों में 64 टैकल प्वाइंट्स हासिल किए थे और 2014 के बाद जयपुर को दूसरी बार चैंपियन बनाया था। इस बार भी वह टीम की कप्तानी करते नजर आ सकते हैं और वह टीम को एक बार फिर चैंपियन बनाना चाहेंगे। जयपुर पिंक पैंथर्स के पास केएस अभिषेक का भी विकल्प है।

जयपुर पिंक पैंथर्स के शुरुआती सात खिलाड़ियों की प्रैडिक्शन
रेडर- वी अजीत कुमार (लेफ्ट रेडर), अर्जुन देशवाल (राइट रेडर) और भवानी राजपूत (राइट रेडर)।

डिफेंडर्स- सुनील कुमार (राइट कवर), साहुल कुमार (राइट कॉर्नर), अंकुश राठी (लेफ्ट कॉर्नर) और रेजा मीरबाघेरी (लेफ्ट कवर)।

  • कबड्डी टूर्नामेंट सीरीज
  • PKL
  • PKL 10

प्रो कबड्डी न्यूज़ इन हिंदी

कबड्डी हिंदी लेख