ads banner
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
अंतरराष्ट्रीयप्रो कबड्डी लीग-9 में बना नया रिकार्ड्स, दर्शकों की संख्या पहुंची 200...

प्रो कबड्डी लीग-9 में बना नया रिकार्ड्स, दर्शकों की संख्या पहुंची 200 मिलियन पार

प्रो कबड्डी लीग-9 में बना नया रिकार्ड्स, दर्शकों की संख्या पहुंची 200 मिलियन पार

भारत में आईपीएल के बाद यहाँ के दर्शकों पर देशी खेल कबड्डी का खुमार भी चढ़ चुका है. जबसे कबड्डी की लीग प्रो कबड्डी लीग का आगाज भारत में हुआ है तबसे दर्शकों में कबडड को लेकर चाव बढ़ गया है. ऐसे में इस सीजन में यह चाव अधिक दिखा है. कबड्डी के मैदान में तो खिलाड़ी रिकार्ड्स बनाते ही है लेकिन मैदान के बाहर उनक फैन्स भी उनके लिए रिकार्ड्स बनाकर उन्हें प्यार देते हैं. दरअसल बात ये है कि ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल के आंकड़ों के मुताबिक़ प्रो कबड्डी लीग के सीजन नौ में दर्शकों का रिकॉर्ड टूट चुका है. बात ये है कि 2 दिसम्बर तक हुए 114 मैचों में दर्शकों की संख्या 200 मिलियन तक पहुंच चुकी है.

PKL-9 में दर्शकों की संख्या हुई 200 मिलियन के आगे

जबकि पिछले पूरे सीजन में यह संख्या 189 मिलियन तक ही थी. जबकि अभी तो मैच के आखिरी पडाव बाकी है. सेमीफाइनल और फाइनल मुकाबले होने है जिसमें दर्शकों की संख्या और बढ़ने कि आशंका है. यह आंकडें पिछले सीजन के मुकाबले 13 मिलियन अधिक है.

डिज्नी स्टार पर प्रसारित प्रो कबड्डी लीग के सीजन नौ में पहले ही 200 मिलियन का आंकड़ा पूरा कर लिया है. जबकि यह आंकड़ा पिछले सीजन के मुकाबले कई अधिक है. इसके लिए मुख्य योगदान भारत के पश्चिम और दक्षिण इलाकों का रहा है जहां दर्शकों ने प्रो कबड्डी लीग को इतना सराहा है.

वहीं ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च कौंसिल के आंकड़ों के अनुसार ही प्रो कबड्डी लीग सीजन नौ में यह आंकड़ा पार हो चुका है. पेशेवर पुरुष कबड्डी लीग का आधुनिक सीजन 7 अक्टूबर से शुरू हुआ था. इसका दर्शकों को बेसब्री से इन्तजार था. 17 दिसम्बर तक चलने वाले इस बड़े आयोजन में 12 टीमों ने हिस्सा लिया था. जिसमें जयपुर पिंक पैंथर्स और पुनेर पलटन का दबदबा पूरे सीजन में कायम रहा है.

साथ ही इस बार तमिल टीम पहली बार प्लेऑफ में पहुंची है और इसने रिकॉर्ड कायम कर लिया है.

Yash Sharma
Yash Sharmahttps://prokabaddilivescore.com/
मुझे 12 साल की उम्र से ही इस खेल में दिलचस्पी है। मैं प्रो कबड्डी का फैन हूं।

प्रो कबड्डी न्यूज़ इन हिंदी

कबड्डी हिंदी लेख