ads banner
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
अंतरराष्ट्रीयपटना और बंगाल का आखिरी लीग मुकाबला, पटना ने जीत के साथ...

पटना और बंगाल का आखिरी लीग मुकाबला, पटना ने जीत के साथ ली विदाई

पटना और बंगाल का आखिरी लीग मुकाबला, पटना ने जीत के साथ ली विदाई

प्रो कबड्डी लीग का आखिरी लीग  का 130वां मुकाबला पटना पाइरेट्स और बंगाल वॉरियर्स के बीच खेला गया था. जिसमें पटना टीम ने बंगाल टीम को 49-38 से हराते हुए करारी शिकस्त दी. पटना टीम ने लीग के स्टेज का अंत 54 अंकों के साथ किया. जिसमें वह 10वें स्थान पर मौजूद रही. वहीं बंगाल टीम ने 53 अंकों के साथ इस लीग का अंत किया और वह 11वें स्थान पर रही. और दोनों ही टीमें अब लीग से बाहर हो गई है.

आखिरी लीग मैच में बंगाल ने हारकर ली विदाई

वहीं बात करें इस मैच कि तो पटना टीम के लिए रेडिंग में रंजीत ने 9 पॉइंट्स लिए थे. जबकि डिफेन्स में शानदार कमाल करते हुए मोहम्मद रेजा और सागर कुमार ने 7-7 पॉइंट्स लिए थे. वहीं बंगाल टीम के लिए रेडिंग में आकाश पिकलमुंडे ने सबसे ज्यादा 11 पॉइंट्स लिए थे.

मैच में पहले हाफ कि बात करें तो पटना टीम ने बंगाल पर 18-17 से बढ़त बनाई थी. इस हाफ में पटना टीम ने बंगाल पर धमाकेदार शुरुआत की थी. जिसमे सातवें मिनट में ही बंगाल टीम को पटना ने लोना दे दिया था. बंगाल टीम ने जबरदस्त पलटवार करते हुए पटना पर दबाव बनान शुरू किया. और 18वें मिनट में बंगाल को इसमें सफलता मिली और उनसे पटना को लोना दिया था.

पटना ने जीत के साथ कहा सीजन को अलविदा

मैच के दूसरे हाफ कि बात करें तो मोहम्मदरेजा ने टैकल करते हुए अपना हाई 5 पूरा किया. पटना टीम जल्द ही बंगाल को दूसरी बार ऑलआउट करने के कगार पर गई थी. और 26वें मिनट में उन्होंने बंगाल को फिर से लोना दिया था. इतना ही नहीं पटना के खिलाड़ियों ने इतना अच्छा प्रदर्शन किया कि उन्होंने बंगाल को फिर से ऑलआउट की तरफ धकेला. इसी बीच बंगाल टीम के आकाश ने अपना सुपर 10 तो पूरा किया लेकिन टीम को जीत की ओर नहीं ले जा सके. अंत में पटना टीम ने यह मैच अपने नाम कर लिया. वहीं बंगाल टीम को एक भी अंक नहीं मिला. इसी के साथ इस सीजन की समाप्ति पटना ने जीत के साथ की और बंगाल को हार का सामना करना पड़.

 

Yash Sharma
Yash Sharmahttps://prokabaddilivescore.com/
मुझे 12 साल की उम्र से ही इस खेल में दिलचस्पी है। मैं प्रो कबड्डी का फैन हूं।

प्रो कबड्डी न्यूज़ इन हिंदी

कबड्डी हिंदी लेख