ads banner
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
खिलाड़ियोंशुजालपुर में शिव सेवा संस्थान द्वारा कबड्डी टूर्नामेंट आयोजित, सैनिकों का हुआ...

शुजालपुर में शिव सेवा संस्थान द्वारा कबड्डी टूर्नामेंट आयोजित, सैनिकों का हुआ सम्मान

शुजालपुर में शिव सेवा संस्थान द्वारा कबड्डी टूर्नामेंट आयोजित, सैनिकों का हुआ सम्मान

एमपी के शुजालपुर सिटी में कबड्डी टूर्नामेंट का आयोजन किया जा रहा था. जिसमें कई कबड्डी टीमों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया था. इसका आयोजन शहर के बजरंग मैदान में किया गया था. जिसमें शिव सेवा संस्थान ने इस कार्यक्रम का आयोजन किया था. गणतंत्र दिवस की शाम को इस समापन भी हुआ था. इस दौरान भारत माता की आरती की गई और सैनिकों का सम्मान भी किया था.

शुजालपुर में शिव सेवा संस्थान का शानदार आयोजन

शिव सेवा संस्थान की ओर से आयोजित की जा रहे इस टूर्नामेंट का शुभारम्भ सुबह 9 बजे किया गया था. जिसमें अतिथियों ने मैदान का पूजन भी किया और भारत माता के चित्र पर माल्यार्पण कर किया था. इस टूर्नामेंट में 16 टीमों ने भाग लिया था. इस कार्यक्रम का आयोजन करने वाले बंटी पुष्पद ने बताया कि पहला मैच भीलवाडिया और स्टूडेंट क्लब बी टीम शुजालपुर के बीच हुआ था. जिसमें भीलवाडिया की टीम ने मैच को अपने नाम किया था.

इस मैच में काफी रोमांचक मोड़ सामने आया था. जिसमें दोनों टीमों के बराबरी पर स्कोर था. लेकिन विजेता टीम ने एक रेड में पासा पलट मैच का पक्ष अपनी तरफ कर लिया था. मैच को भीलवाडिया ने जीता था. दूसरा मैच भी काफी शानदार रहा है. इसे भी रोमांचक तरीके से टीम ने जीता था. इस मैच में सीहोर जिले के अमाझर मोगरा की टीम ने निवालिया को हराया था. इस मैच में विजेता टीम के खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन किया था. और मैच अपने नाम किया था. मैच का सबसे अच्छा रोमांचक विजेता टीम ने दिलाया था.

वहीं तीसरे मैच कि बात करें तो इस मैच में अमलावती और सकरई की टीम आमने-सामने थी. इस मैच में विजेता टीम ने शानदार मुकाबला खेला था और एक तरफा मैच हासिल किया था. वहीं इस टूर्नामेंट का फाइनल मुकाबला शाम को हुआ था.

भारत माता की आरती के साथ शुजालपुर और आसपास के रहने वाले सैनकों का सम्मान भी हुआ था. और उन्हें पुरुस्कार भी वितरित किए थे. इस टूर्नामेंट को देखने के लिए बड़ी संख्या में दर्शक आए थे. आनंद परमार और हुकुम परमार ने मैदान में निर्णायक की भूमिका निभाई थी.

 

Yash Sharma
Yash Sharmahttps://prokabaddilivescore.com/
मुझे 12 साल की उम्र से ही इस खेल में दिलचस्पी है। मैं प्रो कबड्डी का फैन हूं।

प्रो कबड्डी न्यूज़ इन हिंदी

कबड्डी हिंदी लेख