ads banner
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
एथलीटPKL में यह करनामा करने वाले पहले भारतीय बने Surjeet Singh

PKL में यह करनामा करने वाले पहले भारतीय बने Surjeet Singh

PKL में यह करनामा करने वाले पहले भारतीय बने Surjeet Singh

Kabaddi Player Surjeet Singh: सुरजीत सिंह ने प्रो कबड्डी लीग के इतिहास में एक ऐसा मील का पत्थर हासिल करते हुए अपना नाम दर्ज करा लिया है, जिस तक पहले कभी कोई भारतीय डिफेंडर नहीं पहुंच सका।

लीग में 400 टैकल पॉइंट जमा करने की सुरजीत की उल्लेखनीय उपलब्धि ने न केवल महान खिलाड़ियों के बीच अपना स्थान सुरक्षित कर लिया है, बल्कि महत्वाकांक्षी डिफेंडर के लिए एक बेंचमार्क भी स्थापित कर दिया है।

ऐतिहासिक क्षण पीकेएल सीजन 10 के मैच नंबर 104 में सामने आया, जहां बेंगलुरु बुल्स जर्सी पहने हुए सुरजीत का सामना यू मुंबा से हुआ।

जैसे ही सुरजीत ने अपना हाई 5 पूरा किया, गेम सुरजीत की रक्षात्मक महारत के प्रदर्शन के रूप में बदल गया।

इस मुठभेड़ में, सुरजीत ने न केवल अपना 400वां टैकल प्वाइंट हासिल किया, बल्कि महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हुए कुल 6 टैकल प्वाइंट भी हासिल किए। वह अपनी टीम को जीत की ओर ले जा रहे हैं यू मुंबा के खिलाफ अहम मुकाबला।

Kabaddi Player Surjeet Singh के 402 टैकल

सुरजीत की इस माइलस्टोन तक की यात्रा विस्मयकारी से कम नहीं है। 145 मैच खेलने के बाद, वह अब 402 की प्रभावशाली संख्या के साथ, टैकल पॉइंट्स के मामले में दूसरे सबसे बड़े डिफेंडर के रूप में खड़ा है।

उससे आगे निकलने वाला एकमात्र खिलाड़ी दुर्जेय ‘सुल्तान’ फ़ज़ल अत्राचली है, जो एक स्टैग का दावा करता है।

जबकि फ़ज़ल टैकल पॉइंट्स की कुल संख्या में आगे हो सकते है, सुरजीत खेल के दूसरे पहलू – प्रतिष्ठित हाई 5s में चमकते है।

Kabaddi Player Surjeet Singh के पास 34 हाई 5s

सुरजीत के 34 हाई 5s ने उन्हें इस कैटिगरी में मौजूदा चैंपियन बना दिया है, उन्होंने फ़ज़ल को पछाड़ दिया है, जो 28 हाई 5s के साथ उनके नाम पर पीछे हैं।

यह आंकड़ा सुरजीत की निरंतरता और अपनी सामरिक प्रतिभा से विरोधियों को मात देने की क्षमता और अपनी टीम के लिए महत्वपूर्ण अंक सुरक्षित करने की क्षमता पर प्रकाश डालता है।

सुरजीत और फ़ज़ल के बीच प्रतिद्वंद्विता प्रो कबड्डी लीग के इतिहास की कहानी में एक दिलचस्प परत जोड़ती है। दोनों खिलाड़ियों ने दुर्जेय रक्षकों के रूप में अपनी जगह बनाई है, प्रत्येक खिलाड़ी मैट पर अद्वितीय कौशल ला रहा है।

फ़ैज़ल की प्रबल ताकत और लगातार प्रदर्शन ने उन्हें एक ताकतवर बना दिया है, जबकि सुरजीत की चपलता, रणनीति और हाई 5s हासिल करने की आदत ने उन्हें लीग में अलग कर दिया है।

Also Read: Arjuna Award पाने वाले सभी Kabaddi Players की List

  • कबड्डी टूर्नामेंट सीरीज
  • PKL 10
Aditya Jaiswal
Aditya Jaiswalhttps://prokabaddilivescore.com/
आपका प्रो कबड्डी सूचना स्रोत। नवीनतम कबड्डी समाचार संवाददाताओं में से एक जो खेल पर कहानियां और रिपोर्ट लिखता है।

प्रो कबड्डी न्यूज़ इन हिंदी

कबड्डी हिंदी लेख