ads banner
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
समाचारउरई में कबड्डी प्रतियोगिता का फाइनल मुकाबला हुआ, 10 टीमों में से...

उरई में कबड्डी प्रतियोगिता का फाइनल मुकाबला हुआ, 10 टीमों में से रामपुरा टीम जीती

उरई में कबड्डी प्रतियोगिता का फाइनल मुकाबला हुआ, 10 टीमों में से रामपुरा टीम जीती

उत्तरप्रदेश के लखनऊ में उरई स्थित सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया था. विश्व हिन्दू परिषद द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में जिला स्तरीय कबड्डी प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया था. जिसमें खिलाड़ियों ने बढ़-चढ़कर भाग लिया था. इस टूर्नामेंट में 13 प्रखंडों की टीमों ने भाग लिया था. जिसमें 10 टीमें इस टूर्नामेंट में पहुँचीं और उनके खिलाड़ियों ने बड़ी ही गर्मजोशी के साथ खेल का आंनद लिया था.

उरई में आयोजित हुए कबड्डी टूर्नामेंट का निकला फैसला

वहीं इस टूर्नामेंट में फाइनल मुकाबला रामपुरा और जालौन के खिलाड़ियों के बीच हुआ था. इस रोमांचक मुकाबले में रामपुरा के खिलाड़ियों ने शानदार खेल का प्रदर्शन करते हुए खिताब अपने नाम कर लिया था. मैच का फैसला आखिरी समय तक नहीं हो सका था. इस मुकाबले में शुरू से ही रामपुरा के खिलाड़ियों का दबदबा रहा था. और मैच का फैसला आखिरी पड़ाव पर जाकर हुआ था. मैच में ना सिर्फ रामपुरा के खिलाड़ी तालमेल के साथ खेले बल्कि उन्होंने मैच को दोनों हाफ में अपने हाथों से नहीं जाने दिया.

विजेता टीम रामपुरा को मुख्य अतिथियों ने शील्ड देकर सम्मानित किया था. साथ ही खिलाड़ियों का भी सम्मान किया गया था. वहीं उपविजेता रही टीम जालौन के खिलाड़ियों का भी सम्मान किया गया था. इस पहले बता दें विहिप के जिलाध्यक्ष गुरुप्रसाद शर्मा ने कबड्डी प्रतियोगिता का उद्घाटन किया था. वहीं विहिप के पूर्व जिला मत्री ज्ञानेंद्र तिवारी, कार्यक्रम संयोजक अनिकेत चतुर्वेदी, सह संयोजक बजरंग दल आकाश उदैनिया, विकास राय, प्रिंस गुप्ता, प्रशांत तिवारी, हर्ष विश्नोई दीपंकर गुप्ता आदि भी मौजूद रहे थे. सभी ने खिलाड़ियों से मुलाक़ात कि और उनका हौसला बढ़ाया था.

खिलाड़ियों को इस दौरान मुख्य अतिथि ने सम्बोधित करते हुए अच्छे से मैत्री पूर्ण खेलने के लिए प्रेरित किया था. इस टूर्नामेंट में विभाग के श संयोजक बजरंग दल मनुराज तिवारी ने कमेंट्री की थी. रेफरी की भूमिका जीडी त्रिपाठी ने निभाई थी. मैच के दौरान खिलाड़ियों की पूर्ण सुविधा का ध्यान रखा गया था.

Yash Sharma
Yash Sharmahttps://prokabaddilivescore.com/
मुझे 12 साल की उम्र से ही इस खेल में दिलचस्पी है। मैं प्रो कबड्डी का फैन हूं।

प्रो कबड्डी न्यूज़ इन हिंदी

कबड्डी हिंदी लेख