ads banner
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
अंतरराष्ट्रीयवो तीन टीमें जिन्होंने शीर्ष पर रहते हुए जीता ख़िताब, एक ने...

वो तीन टीमें जिन्होंने शीर्ष पर रहते हुए जीता ख़िताब, एक ने तो तीन बार जीता ख़िताब

वो तीन टीमें जिन्होंने शीर्ष पर रहते हुए जीता ख़िताब, एक ने तो तीन बार जीता ख़िताब

प्रो कबड्डी लीग का नया चैंपियन जल्द ही मिलने वाला है. इसके लिए दोनों टीमें एक कदम दूरी पर है. जयपुर और पुणे टीम फाइनल में जगह बना चुकी है. और इन दोनों का फैसला आज रात में यानी 17 दिसम्बर को हो जाएगा. या तो जयपुर दूसरी बार यह खिताब अपने नाम करेगी या पुणे पहली बार इस खिताब को अपने नाम करेगा. ऐसे में बता दें यह दोनों टीमें टॉप दो में जगह बना चुकी थी. जिसके चलते इन्हें सीधे सेमीफाइनल एम् जगह बनाने का मौका मिला था. ऐसा सिर्फ तीन बार हुआ है जब प्रो कबड्डी लीग में कोई टीम शीर्ष स्थान पर रहते हुए इस खिताब को जीतने में सफल रही हो. जानिए यह तीन टीमें कौनसी है जिन्होंने यह कारनामा किया.

तीन टीमें जिन्होंने स्टेज पर बनाया शीर्ष स्थान और जीता ख़िताब

पिछले कुछ सीजन से यह ट्रेंड देखा जा रहा है कि जो टीम अंकतालिका में पहले स्थान पर रहती है वो ख़िताब नहीं जीत पाती है. इतिहास में ऐसी तीन ही टीमें है जो पहले स्थान पर रहते हुए खिताब जीतने में सफल रही हों.

सबसे पहले बात करें जयपुर पिंक पैंथर्स टीम कि तो इन्होने पहले सीजन का खिताब अपने नाम किया था. उस सीजन में यह पहले स्थान पर ही बनी हुई थी. पहले सीजन में इन्होने सेमीफाइनल एम् पटना और फाइनल में मुंबई टीम को हराकर खिताब जीता था. देखना होगा कि क्या जयपुर टीम फिर से इतिहास दोहरा सकती है या नहीं.

वहीं मुंबई टीम कि बात करें तो दूसरा सीजन मुंबई के नाम रहा था. जिसमें उन्होएँ बेंगलुरु बुल्स को फाइनल में हराकर यह ख़िताब अपने नाम किया था. मुंबई ने लीग स्टेज का अंत पहले स्थान पर रहते हुए किया था. मुंबई ने सेमीफाइनल में पटना को ही हराया था और फाइनल जीतकर इतिहास रचा था.

वहीं प्रो कबड्डी लीग कि सबसे सफल टीम पटना तीन बार चैंपियन बन चुकी है. चौथे सीजन में लीग स्टेज पर शीर्ष पर रहकर टीम ने ख़िताब अपने नाम किया था. और इसी के साथ उन्होंने दूसरा लगातार ख़िताब अपने नाम किया था.

Yash Sharma
Yash Sharmahttps://prokabaddilivescore.com/
मुझे 12 साल की उम्र से ही इस खेल में दिलचस्पी है। मैं प्रो कबड्डी का फैन हूं।

प्रो कबड्डी न्यूज़ इन हिंदी

कबड्डी हिंदी लेख