ads banner
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
ads banner buaksib
ads banner
घरेलूKhelo India University Games 2023 में Kabaddi का विनर कौन?

Khelo India University Games 2023 में Kabaddi का विनर कौन?

Khelo India University Games 2023 में Kabaddi का विनर कौन?

Kabaddi Winner of Khelo India University Games 2023: खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स कार्यक्रम 2020 भारत सरकार द्वारा शुरू किया गया था। खेलो इंडिया यूथ गेम्स की सफलता के बाद खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स शुरू किया गया था।

इसका उद्देश्य हमारे देश में खेले जाने वाले सभी खेलों के लिए एक मजबूत ढांचा तैयार करके जमीनी स्तर पर भारत में खेल संस्कृति को पुनर्जीवित करना और भारत को एक महान खेल राष्ट्र के रूप में स्थापित करना था।

भारतीय केंद्र सरकार असम, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय, त्रिपुरा, मिजोरम, सिक्किम और नागालैंड राज्य सरकार के साथ मिलकर खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स के चौथे संस्करण का आयोजन किया।

Khelo India University Games 2023 में Kabaddi का Winner कौन बना?

इसका उद्घाटन 19 फरवरी को हुआ था। कबड्डी भी खेलो इंडिया गेम्स का हिस्सा था। कबड्डी 17 से 21 फरवरी 2024 तक निर्धारित थी।

कल 21 फरवरी को बालक वर्ग में मैंगलोर यूनिवर्सिटी, कर्नाटक ने कोटा यूनिवर्सिटी, राजस्थान को 36-22 से हराकर स्वर्ण पदक जीता।

लड़कियों के वर्ग में चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी, पंजाब ने भारती विद्यापीठ यूनिवर्सिटी पुणे, महाराष्ट्र को 35-32 से हराकर स्वर्ण पदक जीता।

KIUG ने एथलीट के लिए अवसर पैदा किए: राज कुमार घनघस

असम के गुवाहाटी में कबड्डी मैचों की शुरुआत करते हुए, हरियाणा के भिवानी में चौधरी बंसी लाल विश्वविद्यालय के राइट रेडर, हैप्पी राज कुमार घनघस ने खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स के महत्व, कबड्डी के प्रति अपने जुनून, अपनी प्रेरणाओं और भविष्य की आकांक्षाओं पर अपने विचार साझा किए।

हैप्पी घनघास ने ‘खेलो इंडिया’ पहल के परिवर्तनकारी प्रभाव को दर्शाते हुए कहा कि इसने देश के महत्वाकांक्षी एथलीटों के लिए कई अवसर पैदा किए हैं। हैप्पी ने कहा कि उन्होंने अपनी प्रतिस्पर्धी यात्रा नई दिल्ली में आयोजित ‘खेलो इंडिया स्कूल गेम्स’ से शुरू की।

उन्होंने प्रतिभा पहचान में खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स के जबरदस्त महत्व पर भी प्रकाश डाला। एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, अपने पिता के नक्शेकदम पर चलते हुए, सीमा सुरक्षा बल (BSF) के पूर्व कबड्डी खिलाड़ी, जो अब BSF के लिए कबड्डी कोच के रूप में कार्यरत हैं, उन्होंने बताया कि कैसे पारिवारिक प्रभाव ने खेल में उनके प्रवेश को आकार दिया।

Also Read: Kabaddi में बनाना चाहते है कैरियर? यहां जानें जरूरी Tips

Aditya Jaiswal
Aditya Jaiswalhttps://prokabaddilivescore.com/
आपका प्रो कबड्डी सूचना स्रोत। नवीनतम कबड्डी समाचार संवाददाताओं में से एक जो खेल पर कहानियां और रिपोर्ट लिखता है।

प्रो कबड्डी न्यूज़ इन हिंदी

कबड्डी हिंदी लेख